भारती एयरटेल और रिलायंस जियो में छिड़ी जंग: जानिये क्या है मुद्दा

भारती एयरटेल और रिलायंस जियो में छिड़ी जंग: जानिये क्या है मुद्दा - रिलायंस जियो के मार्केट में आने के बाद मोबाइल अॉपरेटर कंपनियों खासकर एयरटेल और जियो के बीच काफी गहमागहमी का माहौल है.

war-between-airtel-and-jio

रिलायंस जियो और भारती एयरटेल के बीच टैरिफ प्लान्स को लेकर तकरार बंद होने का नाम ही नहीं ले रहा है. सूत्रों के अनुसार रिलायंस जियो ने टेलीकॉम रेग्युलेटर TRAI से कहा है कि वह भारती एयरटेल पर टैरिफ आदेशों का उल्लंघन करने और कुछ योजनाओं को भ्रामक तरीके से दिखाने को लेकर ज्यादा से ज्यादा पेनाल्टी लगाए. इधर एयरटेल ने इनका खंडन करने हुए जियो पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने ही टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी अॉफ इंडिया यानी ट्राई के आदेशों का लगातार उल्लंघन किया है. ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक आरोपों में कहा गया कि रिलायंस जियो नेटवर्क सहित अपनी सभी मुश्किलों के लिए औरों को जिम्मेदार ठहरा रहा है. हाल ही में जियो के मालिक मुकेश अंबानी ने ट्राई को भारती एयरटेल के दो टैरिफ अॉफर्स (299-499) के बारे में लिखा, जिसमें उन्होंने कहा कि सुनील मित्तल की कंपनी 4जी और अन्य उपभोक्ताओं के भी भेदभाव कर रही है. उन्होंने लिखा कि 4जी हैंडसेट वाले नए ग्राहकों को बेहतरीन सर्विसेज दी जा रही हैं, जबकि अन्यों को डाटा और वॉइस कॉल में कम सुविधाएं दी जा रही हैं.

जियो ने कहा, हमने खत में एयरटेल प्रीपेड के पहले रिचार्ज को लेकर बनाए गए विज्ञापन के बारे में चिंता जताई है, जिसमें फ्री डाटा और वॉइस कॉल को भ्रामक तरीके से पेश किया है. इससे दूरसंचार कानूनों का उल्लंघन होता है. जियो ने कहा, एयरटेल ने 4 जी हैंडसेट और सिम रखने वाले ग्राहकों के आधार पर मनमाने ढंग से भेदभाव किया है. उसने इसी रिचार्ज पर बिना 4जी हैंडसेट और सिम वाले ग्राहकों के वॉइस बिनिफिट्स की वेलिडिटी घटा दी है. जियो ने कहा कि इन दो टैरिफ प्लान्स के प्रोमोशन के दौरान एयरटेल भ्रामक विज्ञापन भी चला रहा था. सख्त कार्रवाई और पेनाल्टी लगाने की मांग करते हुए जियो ने ट्राई से कहा कि वह एयरटेल को तुरंत इन टैरिफ और प्रोमोशनल पैक्स को हटाने का आदेश दे.

वहीं एयरटेल के प्रवक्ता ने कहा कि डिस्काउंट हर बिजनेस के लिए जरूरी होता है, चाहे वह ई-कॉमर्स हो, टेलीकॉम हो या फिर एविएशन. एयरटेल ने कहा कि इत्तेफाक से जियो पिछले कई महीनों से फ्री सर्विसेज दे रहा है और अब वह अपने उपभोक्ताओं को बनाए रखने के लिए दूसरे अॉपरेटर्स पर सवाल खड़े कर रहा है.

No comments