इनकम टैक्‍सेबल नहीं है तब भी भरें ITR, बिना टीडीएस कटे मिलेंगे बहुत सारे फायदे

इनकम टैक्‍सेबल नहीं है तब भी भरें ITR, बिना टीडीएस कटे मिलेंगे बहुत सारे फायदे 

income-tax-returns-if-income-is-not-taxable

आपकी सालाना आय 2.5 लाख रुपए से कम है तो आप टैक्स के दायरे में नहीं आते, लेकिन तब भी आपको इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करना चाहिए. इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करने के कई फायदे हैं. जो आपको इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल किए बिना नहीं मिल सकते हैं. ITR फाइल करने के लि‍ए आप www.incometaxindiaefiling.gov.in पर लॉग इन कर सकते हैं.

सभी को ITR भरना क्यों है जरूरी 

इनकम टैक्‍स रिटर्न आपकी इनकम का प्रूफ होता है. सभी सरकारी और प्राइवेट संस्‍थान इनकम टैक्‍स रिटर्न को इनकम प्रूफ के तौर पर स्‍वीकार करते हैं. ऐसे में अगर आप इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करते हैं तो आपको जरूरत पड़ने पर अलग से किसी तरह का आय प्रमाण पत्र देने की जरूरत नहीं होती है. कई सरकारी योजनाओं में इससे आपको लाभ मिलता है. आय प्रमाण पत्र के तौर पर भी आप इसे दे सकते हैं. ITR भरने के और भी कई सारे फायदे हैं जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं : 

लोन लेना हो जाता है आसान 

कभी आप होम लोन या फिर पर्सनल लोग लेने जा रहे हैं तो आपको ITR फार्म की रिसीविंग से लाभ होगा. बैंक और दूसरे फाइनेंशियल इंस्‍टीट्यूशन आम तौर पर किसी भी तरह का लोन देने से पहले पिछले दो साल का इनकम टैक्‍स रिटर्न मांगते हैं. अगर आपने इनकम टैक्‍स रिटर्न भरा है तो लोन लेने में परेशानी नहीं होती.

टीडीएस कटने पर मिलेगा रिफंड 

आपकी इनकम टैक्‍सेबल नहीं है और किसी कारण से आपका टैक्‍स डिडक्‍शन एट सोर्स टीडीएस कट गया तो इसे वापस पाने के लिए आपको इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करना होगा. तभी आपको रिफंड मिलेगा. 

वीजा लेने में करेगा मदद 

बैंकबाजारडॉटकॉम के सीईओ आदिल शेट्टी बताते हैं कि कुछ देश वीजा के लिए आवेदन करने वालों से इनकम टैक्‍स रिटर्न मांगते हैं. इसके अलावा अगर आपका बच्‍चा एजुकेशन वीजा के लिए आवेदन करता है तब भी कुछ देशों में आपके इनकम टैक्‍स रिटर्न की जरूरत पड़ सकती है. ऐसे में अगर आप इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करते हैं तो आपको फायदा होगा.

ATM कार्ड से करें ITR का ई- वैरिफिकेशन 

ITR फाइल करने के बाद उसका ई- वैरि‍फि‍केशन करना होता है. यह काम आप नेट बैंकिंग, डीमैट अकाउंट और आधार कार्ड के अलावा एटीएम से भी कर सकते हैं. हम आपको बता रहे हैं एटीएम से ITR का ई- वैरि‍फिकेशन करने सरल तरीका. 
  1. अपने बैंक की शाखा के एटीएम में एटीएम कार्ड डालें 
  2. ई फाइलिंग के लि‍ए पि‍न पर क्‍लि‍क करें (केवल चयनि‍त बैंकों के लि‍ए उपलब्‍ध) 
  3. पंजीकृत मोबाइल नंबर पर EVC प्राप्‍त करें. 
  4. ई फाइलिंग पोर्टल पर लॉगइन करें. 
  5. बैंक एटीएम के माध्‍यम से पूर्व जनित EVC को सत्‍यापन प्रणाली के रूप में चुनें. 
  6. वि‍वरणी जमा करें/ SML अपलोड करें.
  7. EVC दर्ज करें.
  8. आईटीआर सत्‍यापि‍त.

Comments