रेलवे ठेका कर्मचारियों को बीमा योजना का लाभ मिलेगा: रेलवे बोर्ड

रेलवे ठेका कर्मचारियों को बीमा योजना का लाभ मिलेगा: रेलवे बोर्ड 

रेलवे में ठेके पर कार्य करने वाले कर्मचारियों को प्रधानमंत्री बीमा योजना के तहत कवर किया जायेगा. इन कर्मचारियों में खानपान सेवा, ऑनबोर्ड हाउस कीपिंग, सफाई, और संरक्षा क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारी शामिल हैं. 

रेलवे में काम करने वाले सभी स्थायी व अस्थायी कर्मचारियों को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई) और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई) का लाभ मिलेगा. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने सभी रेलवे जोन के महाप्रबंधकों को पत्र लिखकर इस पर अमल करने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा कि इसके तहत ट्रेन में तैनात ऑन बोर्ड हाउस कीपिंग सर्विस (ओबीएचएस) के कर्मचारियों, सफाई कर्मचारियों, कैटरिंग कर्मचारियों सहित ठेकेदार के नीचे काम करने वाले अन्य मजदूरों को बीमा योजना का लाभ मिलना चाहिए. सभी जोन को एक नोडल ऑफिसर नियुक्त करने को कहा गया है. 

नौकरी से गायब रहने वाले रेलवे के 13 हजार कर्मी होंगे बर्खास्त 

रेलवे में मर्जी से लंबी छुट्टियां मना रहे कर्मचारियों पर गाज गिर सकती है. रेलवे ने अपने 13 हजार से ज्यादा ऐसे कर्मचारियों की पहचान की है जो लंबे समय से अनधिकृत रूप से छुट्टी पर हैं. रेलवे ने उनकी सेवाएं खत्म करने के लिए अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है. 

लोकसभा 2019 की तैयारीः मोदी सरकार ने जनता के लिए क्या-क्या किया, अब यह रेलवे भी बताएगा 

दरअसल, रेलवे ने प्रदर्शन सुधारने और ईमानदार व मेहनती कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए एक अभियान शुरू किया है. यह कार्रवाई उसी अभियान का हिस्सा है. 

रेलवे की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, रेलवे ने अपने सभी अधिकारियों और पर्यवेक्षकों को निर्देश दिया है कि वे आवश्यक प्रक्रियाओं का पालन करते हुए इन कर्मियों को कर्मचारी सूची से बाहर करें. 

52 साल से अधिक है 'नेताजी' की उम्र तो कांग्रेस कार्यकारिणी में नहीं मिलेगा मौका 


नौ माह में वसूला 850 करोड़ जुर्माना- 

वर्तमान वित्तीय वर्ष के शुरुआती नौ महीनों में रेलवे ने यात्रियों से टिकट से जुड़े जुर्माने के रूप में 850 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि वसूली है. रेल राज्यमंत्री राजन गोहाई ने शुक्रवार को राज्यसभा में यह जानकारी दी. 

उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में दिसंबर तक 18.18 लाख चैकिंग की गईं और इस दौरान 1.83 करोड़ यात्रियों से जुर्माने की उक्त राशि वसूली गई.

Share:

No comments:

Post a Comment

Followers